कानपूर नौबस्ता पुलिस रिपोर्ट न लिखकर अपराधियों के अपराध को बढ़ावा देने में सहयोग कर रही है या जनता को परेशान !

October 25, 2020 by No Comments

ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह के एक फेसबुक id पर लगा प्रोफाइल फोटो

कानपूर UP – थाना नौबस्ता के अंतर्गत paytm खाते से ऑनलाइन आठ हजार एक सौ रूपये की हुई ठगी जिसमे 05/10/2020 को 1000/ upi id – aseshjain4@okicici में तथा 18/10/2020 को सात हजार एक सौ रूपये paytm खाते से किसी अज्ञात paytm no. 8306506129 द्वारा ठगी की गयी ठगी करने वाला धोखेबाज संभवतः राजस्थान का आशीष जैन के नाम से FB id बनाकर ऑनलाइन ठगी करता है और बना चूका होगा सैकडो को शिकार !

थानाध्यक्ष नौबस्ता ,कानपूर ,up

आपको बताते चले की धोखाधड़ी एवं ऑनलाइन ठगी का शिकार हुवे पीड़ित के अनुसार किसी FB id आशीष नामक युवक ने paytm DISTRIBUTER एकाउंट्स id बनाने में सपोर्ट्स करने के नाम पर प्रार्थी की बिना अनुमति के पास कोड चेंज कर 7100/ रु अपने paytm एकाउंट्स 8306506129 में ट्रान्सफर कर लिए और बाद में पीड़ित के बात करने पर लीमिट सेट का हवाला देते हुवे 5 मिनुट्स में पूरा paisa वापस आने को बोला paisa न आने पर दुबारा पैसे फंसने की बात करने लगा और दुबारा से 13000/ और डिपाजिट करने को बोला धोखाधड़ी का शिकार हुवे व्यक्ति को धोखा होने का अंदेशा हुवा और प्रार्थी मंडी समिति निवासी मौर्यध्वज शर्मा ने 20/10/20 को धोखाधड़ी की सुचना तत्काल नौबस्ता थाने में लिखित रूप में दी इसके बाद कानपूर cyber क्राइम सेल में भी लिखित रूप में दी इसके बाद प्रार्थी थानाध्यक्ष नौबस्ता से मिला और थानाध्यक्ष से fir register करने का निवेदन किया लेकिन खबर लिखे जाने तक fir दर्ज नही हुई आज थाने में सुचना दिए प्रार्थी को 5 दिन हो गए है लेकिन अभी तक fir रजिस्टर्ड नही हुई है और न ही कोई कार्यवाही हुई थानाध्यक्ष नौबस्ता fir लिखने में कर रहे है आनाकानी ऐसे में सवाल यह उठता है की प्रार्थी की रिपोर्ट न लिखकर पुलिस अपराधियों का साथ दे रही है या और लोगो के ठगी होने का इंतजार कर रही है एक बार अभी प्रार्थी की रिपोर्ट्स पंजीकृत नही हुई और दूसरा शिकार रामनिवास गुज्जर नामक युवक ने फेसबुक पर उसी ठग द्वारा ऑनलाइन 1000/ का शिकार होने का पोस्ट डाला है यह सब पुलिस पर सवाल खड़े कर रहे है अगर समय रहते पुलिस इन फ्रॉड लोगो पर कार्यवाही नही करती है तो हजारो लोग इनके शिकार हो जायेगे !आखिरकार पुलिस इन लोगो पर कार्यवाही क्यों नही करती है क्या इन धोखेबाजो को भी किसी बड़े अधिकारी या नेताओ का संरक्षण प्राप्त है जिससे रिपोर्ट्स नही लिखी जा रही है ऐसे में ठगी के शिकार जनता किससे न्याय की उम्मीद करेगी !

नौबस्ता पुलिस क्यों नही दर्ज कर रही है ऐसे फ्रॉड और ठगों के खिलाफ कोई रिपोर्ट्स क्या अपराधियों के खिलाफ धोखाधड़ी का शिकार हुवे लोगो को न्याय नही मिलेगा और हजारो लोगो को ये ठगते रहेगे एक तरफ योगी सरकार अच्छे कानून ब्यवस्था की दुहाई दे रही है क्या ये सब हवा हवाई है प्रार्थी ने अवगत कराया की ऐसे ठगों को पकड़ने के लिए तथा सैकडो लोगो को ठगी से बचाने के लिए DIG/SSP से भी मिलेगे और न्याय की गुहार लगायेगे प्रार्थी को कानून पर पूरा विश्वास है की रिपोर्ट्स पंजीकृत कर इन धोखेबाजो को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर उचित कार्यवाही कर समाज को धोखेबाज लोगो से बचायेगी

नौबस्ता थानाध्यक्ष से बात करने पर पता चला की आवेदन पत्र अभी तक उन्होंने पुनः सही से देखा नही गया है देखकर बतायेगे की कब रिपोर्ट्स पंजीकृत होगी जबकि प्रार्थी के अनुसार वह स्वम थानाध्यक्ष नौबस्ता से मिला था और पूरी जानकारी मौखिक एवं लिखित दोनों रूप में अवगत कराई थी

Share This:-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *